इन चीजों के साथ मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करें – सर्दियों में भी त्वचा नरम और साफ रहेगी!

multani mitti

मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग त्वचा के लिए अच्छा माना जाता है पर जिन लोगों की त्वचा रूखी है उन्हें मुल्तानी मिट्टी को सही तरीके से लगाना चाहिए और किन चीजों के साथ लगाना चाहिए यह हम आज के ब्लॉग में बताएंगें|

कई बार मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करने से त्वचा रूखी हो जाती है और ऐसा अधिकतर रूखी त्वचा के लोगों में देखा गया है पर मुल्तानी मिट्टी चेहरे को साफ करने के लिए काफी अच्छी मानी जाती है| तो ऐसा क्या किया जाये की मुल्तानी मिट्टी के फायदे भी मिल जाएँ और त्वचा रूखी भी न हो|

आप मुल्तानी मिट्टी इन चीजों के साथ मिक्स करके लगाएँ:

1.   गुलाब जल

2.   शुद्ध शहद

3.   नारियल का पानी

4.   बादाम का तेल या फिर बादाम का दूध

अगर त्वचा ऑयली है तो?

मुल्तानी मिट्टी को गुलाब जल के साथ लगाएँ:

अगर आपकी त्वचा कॉम्बिनेशन स्किन में आती है या ओइली है तो आपको मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग गुलाब जल के साथ करना चाहिए, खासकर सर्दियों में क्यूंकी कॉम्बिनेशन स्किन वाले लोगों की त्वचा अक्सर सर्दियों में रूखी हो जाती है और मुल्तानी मिट्टी को सीधा चेहरे पर लगाने से त्वचा और रूखी हो सकती है|

इसलिए मुल्तानी मिट्टी को गुलाब जल के साथ मिलाकर लगाने से यह एक एक्सफोलियेटिंग फ़ेस पैक का काम करता है|

इस पैक को चेहरे पर लगाने के बाद थोड़ी देर के लिए अच्छे से मालिश करें और फिर इस पैक को सूखने दें, और सूखने के बाद गुंगुने पानी से धो लें| यह फ़ेस पैक छिद्रों को भी साफ कर देता है| इस पासते को आखोन के नीचे की त्वचा पर न लगाएँ| आप इस पैक को हफ्ते में 2 बार लगा सकते हैं उससे ज़्यादा नहीं|

मुल्तानी मिट्टी को शहद के साथ लगाएँ:

शहद त्वचा के लिए हाइड्रेटिंग होता है इस लिए आप इसे मुल्तानी मिट्टी के साथ मिलाकर चेहरे पर लगाएँ| यह फ़ेस पैक एक तरह के मॉइस्चराइजिंग फेस पैक का काम करता है| इस पैक को बनाने के लिए मुल्तानी मिट्टी का एक बड़ा चम्मच, शहद के साथ मिलाकर इस पेस्ट को 15 से 20 मिनट के लिए चेहरे पर लगाकर छोड़ दें और फिर नॉर्मल पानी से धो लें| इस पेस्ट को आप हफ्ते में 2 बार चेहरे पर लगाएँ|

जाड़े में मुल्तानी मिट्टी के जुड़ी सावधानियां व ज़रूरी बातें:

1.       मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करते वक़्त इसमें कोई भी अन्य मॉइस्चराइजिंग एजेंट ज़रूर मिलाएँ|

2.       अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है तो हफ्ते में एक बार ही मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करें|

3.       अगर आप अपनी ऑयली त्वचा को मुलायम बनाना चाहते हैं तो केवल मुलतानी मिट्टी का इस्तेमाल न करें|

4.       मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल आप हल्दी, व दहि के साथ कर सकते हैं| इस फ़ेस पैक को किसी भी स्किन टाइप के लोग इस्तेमाल कर सकते हैं|

5.       मुल्तानी मिट्टी लगते वक़्त ध्यान रखें की इसे बहुत ज़्यादा देर टके फ़ेस पर न लगा दें और हफ्ते में 2 से अधिक बार मुल्तानी मिट्टी का फ़ेस पाक का इस्तेमाल न करें|

6.       रोज़ मुल्तानी मिट्टी से सर्दी भी लग सकती है क्यूंकी इसकी ठंडी प्रकृति होती है और इसे सर्दियों में इस्तेमाल करने से आपको कोल्ड हो सकता है|

7.       मुलतानी मिट्टी को रोज़ नहीं लगाया जाना चाहिए क्यूंकी इससे आपकी त्वचा के प्रकृतिक तेल छिन सकते हैं और आपकी त्वचा बेहद रूखी व संवेदनशील बन जाती है|

8.       अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है और आपको मुल्तानी मिट्टी से एलर्जि है तो पहले शरीर के किसी अन्य भाग पर मुल्तानी का पैच टेस्ट कर लें|

इसलिए लिए जब भी मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करें जान लें की आपको किस तरीके से इसका इस्तेमाल करना है, इस्तेमाल करते वक़्त किन-किन बातों का ध्यान रखना होता है|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*