सर दर्द को अनदेखा न करें क्यूंकी ऐसा करना भारी पड़ सकता है – सर दर्द के लक्षण जानें!

headache

कई बार छोटी-छोटी समस्याओं को नज़रअंदाज़ करना घटक साबित हो सकता है और ऐसी ही एक समस्या है सर का दर्द| हालांकि की ये कोई बहुत घातक समस्या नहीं है पर कई बार कुछ खतरनाक बीमारियों के लक्षणों का संकेत सर दर्द भी हो सकता है| इसलिए ज़रूरी है की सर दर्द के पीछे के कारण व लक्षणों की जानकारी आपको हो|

कई बार सर दर्द सिर्फ बाम, सोने से और तेल की मालिश से ही ठीक हो जाता है| पर अगर अगर इसके बावजूब आपका सर दर्द हो रहा है तो इसके कई कारण हो सकते हैं| अत्यधिक तनाव, चिंता, और माइग्रेन भी हो सकता है|  

सर दर्द के कारण:

1.       आज के समय में ज़्यादातर काम लैपटाप पर हो रहा है, और कोविड-19 के कारण तो ऑनलाइन बिज़नेस से लेकर पढ़ाई से लेकर सभी तरह के काम ऑनलाइन ही रो रहे जिस कारण लोगों का स्क्रीन टाइम और भी अधिक बढ़ गया है| हर रोज़ घंटों कम्प्युटर व लैपटाप की स्क्रीन के आगे बैठने के कारण भी सर दर्द की समस्या होती है|

2.       कई बार सर दर्द के साथ जबड़ों में भी दर्द होता है| अगर ऐसा हो रहा है तो ये तो जाइंट सेल आर्टराइटिस के कारण हो सकत है| इस समस्या में आपको बुखार, वजन घटना, दो दिखना या धुंधला दिखना ये सभी समस्याएँ होती हैं| ज़्यादातर लोगों में ये समस्या 50 की उम्र के बाद देखने को मिलती है|

3.       इसके साथ ही सर्वाइकोजेनिक सर दर्द भी एक कारण हो सकता है| इस समस्या में व्यक्ति को गर्दन के पीछे के हिस्से में दर्द होगा| ये समस्या गलत पॉस्चर होने के कारण भी होती है| इसमें आपको छाती की मांसपेशियों में तनाव होता है, साथ ही आपके कंधे में कठोरता भी महसूस होती है|

इसलिए जब भी सर में दर्द हो और दर्द काफी समय तक बना रहे तो डॉक्टर से संपर्क करें| ऐसा करने से सर्द के पीछे का कारण भी पता चल जाएगा और आप किसी बड़ी समस्या के जूझ रहे हैं तो इससे भी बचा जा सकता है|

अगर आपको ऊपर बताए गए लक्षण महसूस होते हैं तब भी डॉक्टर से जितना जल्दी हो सके संपर्क करें और जल्द से जल्द सर दर्द से छुटकारा पाएँ|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*