दूधे के साथ गोंद खाने के फायदे अनेक

gond with dudh

दूध और गोंद को आयुर्वेद में कई सारी जड़ी बूटियों के साथ इस्तेमाल में लाया जाता है| इसके साथ ही गोंद का सेवन सर्दियों में करने के लिए एक्सपेर्ट बी कहते हैं खासकर जिन्हें गुठनों या पैरों में दर्द रेहता है, उनके लिए गोंद के सेवन काफी लाभकारी होता है|

आयुर्वेद में बहुत सारी जड़ीबोटियाँ होती हैं जिनके इस्तेमाल से बहुत सारी बीमारियों को ठीक किया जा सकता है| गोंद एक तरह का चिपचिपा खाद्य पदार्थ है जिसे पेड़ से प्राप्त किया जाता है| गोंद को उत्तर भारत के कई राज्यों में खाया जाता है जैसे हरियाणा, राजस्थान, पंजाब और गर्मियों के मौसम में गोंद कतीरे का प्रयोग किया जाता है|

विकास चावला, जो की वेदास क्योर के फाउंडर व डायरेक्टर हैं उनके अनुसार आयुर्वेद में गोंद कतीरे और दूध का इस्तेमाल बहुत सारी जड़ी बूटियों के सतह किया जाता है| इस तरह के कॉम्बिनेशन में मिनरल्स, कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर, और एनर्जि अच्छी मात्रा में होती है पर इसमें फैट नहीं होते हैं|

यही कारण है की इसका इस्तेमाल बहुत सारी दिक्कतों के निवारण के लिए किया जाता है जैसे:

·         हड्डियों में जलन

·         हाथों और पैरों में जलन

·         सोने के जुड़ी दिक्कत

·         महिलाओं से जुड़ी समस्या

·         त्वचा से जुड़े रोग

दूध और गोंद कतीरा का सेवन करने आप बहुत सराई दिक्कतों से बच सकते हैं और ये आपकी सेहत के लिए भी अच्छा होता है|

दूध और गोंद कतीरा का सेवन करने का सही समय:

डॉ. विकास चावला के अनुसार आप दूध और गोंद कतीरा का सेवन दिन में किसी भी समय कर सकते हैं बस अगर आप सुबह खाली पेट इसका सेवन करते हैं तो अधिक लाभ मिलेगा| आप दूध और गोंद कतीरा पूरे दिन में कभी भी कर सकते हैं बस इस बात का ध्यान रहे की इसको खाने से आधा घंटा पहले कुछ न खाएं|

जानिए दूध और गोंद कतीरा का सेवन करने के फायदे

1.       हड्डियों को मजबूती देगा:  

जैसे की ये बात आपको पता ही होगी की दूध कैल्सियम का बहुत अच्छा सोर्स है और यही कारण है की दूध के सेवन से आपक्की हड्डियों को मजबूती मिलती है और शरीर को अच्छी मात्रा में कैल्सियम भी प्राप्त होता है|

2.       ब्लड प्रैशर की दिक्कत सही होगी:

दूध और गोंद कतीरा का सेवन करने से आपका ब्लूग प्रैशर ब्लड नियंत्रित होने में मदद मिलती है| इसलिए जिन लोगों को हाई बीपी की दिक्कत हैं उनके लिए दूध और गोंद कतीरा का सेवन लाभकारी होता है|

3.       गर्मियों में लू से बचाए:

दूध और गोंद कतीरा का सेवन अत्यधिक गर्मी में आपको लू से बचा सकता है क्यूंकी गोंद कतीरा एक तरह का नेचुरल कूलैंट का काम करता है और आपके शरीर को ठंडक देता है| इसलिए जेबी अत्यधिक गर्मी हो और लू चल रही हो तब गोंद कतीरा का सेवन आपके शरीर पर लू का प्रभाव कम होगा और आप लू से बचे रहेंगें| दूध और गोंद कतीरा का सेवन एकसाथ इसलिए भी किया जाता है क्यूंकी दूध में ज़्यादा कोई टेस्ट नहीं होता है जिस कारण दोनों एकसाथ अच्छे से मिल जाते हैं|

4.       महिलाओं के लिए फायदेमंद:

दूध और गोंद कतीरा का सेवन महिलों के लिए काफी हितकारी होता है खासकर वोह महिलाएं जो स्तनपान करवाती हैं| यही कारण है की भारत में बच्चा होने के बाद माँ को गोंद के बने लड्डू खाने को दिये जाते हैं| इससे डिलिवरी के बाद माँ को जो कमज़ोरी होती है वो दूर होती है क्यूंकी गोंद के लड्डू खाने से ताकत मिलती है|

5.       थकावट दूर होगी:

दूध और गोंद कतीरा से जिन लोगों को अत्यधिक थकावट होती है उनको इससे राहत मिलेगी और वह चुस्त-दुरुस्त महसूस करेंगें| इसके सतह ही जिन लोगों को अच्छी नींद नाही आती है उन्हें दूध और गोंद कतीरा का सेवन करने से अच्छी नींद आने में मदद मिलती है|

यही कारण है की दूध और गोंद कतीरा का सेवन करने के लिए एक्सपेर्ट भी कहते हैं क्यूंकी इसके बहुत सारे लाभ अब आपको पता हैं| जिन महिलाओं को नहीं पता था की आखिर क्यूँ माँ बनने के बाद गोंद के लड्डू दिये जाते हैं, उन्हें भी इस बात का पता चल गया होगा|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*