हथेली और तलवे में खुजली के क्या कारण हो सकते हैं? जानें इसे रोकने के उपाय

हथेली और तलवे में खुजली के क्या कारण

कई बार आपने सुना होगा की हथेली में खुजली होना यानि की धन की हानी है या फिर धन खर्च होने वाला है पर ये कहने वाली बातें है आज हम बात करेंगें की हथेली और तलवों में खुजली का क्या कारण होते हैं? और किस तरह आप हथेलियों और तलवों में खुजली की समस्या से निजात पा सकते हैं|

इससे पहले की हम उपाए के आरे में जानें, पहले जानते हैं की हथेली और तलवों में खुजली होने के कारण क्या होते हैं?

हथेली और तलवे में खुजली के कारण जानें:

कई बार मान्यताओं के चलते कुछ बीमारियों की अनदेखा कर सकते हैं और आपने अक्सर सुना भी होग्स की उल्टे हाथ में खुजली हो तो धन का लाभ होता है और अगर सीधे हाथ में खुजली हो तो धन की हानी होती है| पर वज्ञानिक इन बातों को सच नहीं मानते क्यूंकी इन सभी बातों में कोई सच्चाई नहीं है|

वैज्ञानिको की बात करें तो तलवे और हथेली में खुजली हो रही है तो इसके पीछे कुछ शारीरिक दिक्कत हो सकती है जिसे दवाओं और इलाज से ठीक किया जा सकता है| कई बार कुछ दवाओं के कारण भी हथेली और तलवों में खुजली होने लगती है|

1.       स्‍कैबीज़ की समस्‍या: स्‍कैबीज़ एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलने वाली बीमारी है और इस तरह के संक्रामण रोग में (स्‍कैबीज़) खुजली की समस्या होती है| स्‍कैबीज़ की समस्या सारकोपटेस स्‍केबी नामक जीव के कारण होती है| स्‍कैबीज़ से छुटकारा पाने के लिए इसका इलाज ज़रूरी है आपके तलवों और हथेलियों में खुजली की दिक्कत हो सकती है, इसके साथ ये भी जान लें की अगर आपको खुजली काफी ज़्यादा हो रही और आपको 24 घंटे से ज़्यादा हो गया है तो बिना समय बर्बाद किए डॉक्टर से संपर्क करें|

2.       एक्‍ज‍िमा: एक्‍ज‍िमा एक ऐसी बीमारी है जो बैक्टीरिया के कारण होती है और इस त्वचा रोग में त्वचा में पपड़ी जाम जाती है| इसके साथ ही एक्‍ज‍िमा में आपके तलवों और हथेलियों में खुजली की समस्या हो सकती है यही कारण है की जब भी आपको ये त्वचा रोग (एक्‍ज‍िमा) हो आपको डॉक्टर से संपर्क कर उसके बताए गए इलाज को शुरू कर देना चाहिए क्यूंकी अगर आप एक्‍ज‍िमा का इलाज समय पर नहीं करवाते हैं और इससे बढ़ने देते हैं तो इससे आपकी समस्या और अधिक बढ़ जाएगी और इलाज उतना ही मुश्किल होगा|

3.       गर्भावस्‍था: गर्भावस्‍था के दौरान महिला के शरीर में इस्ट्रोजन हार्मोन का अधिक स्त्राव होने लगता है और इस कारण भी खुजली की समस्या हो सकती है| इसके साथ ही शरीर पर दाने या चकत्‍ते भी पद सकत एहइन और हथेली और तलवों में खुजली की समस्या भी हो सकती है| अगर आपको गर्भावस्‍था के दौरान इस तरह के लक्षण दिखाई दें तो अपने डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करें|

4.       फंगल इंफेक्‍शन: अगर आप गंदे जूते पहन लेते हैं और आपकी तलवे गीले ही जूतों में हैं तो इससे भी तलवों में खुजली की समस्या हो सकती है| अगर ऐसा हो तो आप तलवों में क्रीम या नारियल का तेल लगा लें इससे खुजली से राहत मिलेगी| अगर आपको फंगल इंफेक्‍शन की समस्या है तो गरम मोजे न पहनें|  

5.       स्‍क‍िन एलर्जी: कई बार हथेली और तलवों में खुजली का कारण स्‍क‍िन एलर्जी भी होती है ये समस्या किसी पेड़-पौधे के कारण होने वाली एलर्जि और डस्ट एलर्जि के कारण भी हो सकती है| अगर आपको किसी दवा को खाने के बाद कोई रिएक्शन हो जाये तो इससे भी आपको खुजली की समस्या हो सकती है| इससे छुटकारा पाने के लिए आप एंटीसेप्‍ट‍िक क्रीम लगा सकते हैं और आप चाहें तो डॉक्‍टर की सलाह के अनुसार दवाएं ले सकते हैं।

हथेली या तलवे में खुजली से छुटकारा पाने के उपाए:

1.       अगर आपकी हथेलियों और तलवों में खुजली हो रही है तो ऐसे में नामक काफी कारगर हो सकता है| नामक में कुछ ऐसे पोशाक तत्व होते हैं जो खुजली की दिक्कत को दूर कर सकते हैं| इसलिए खुजली को दूर भागने के लिए नामक वाले गुनगुने पानी में पैर दाल कर बैठें, इससे आपके पैर के तलवों में खुजली होना बंद हो जाएगी और आपके पैरों की थकावट भी दूर हो जाएगी| जब आप पनाई से पैर बाहर निकालें तो पैरों को अच्छे से पोच लें और एंटीसेप्‍ट‍िक क्रीम लगा लें।

2.   अगर आपके तलवों और हथेली में खुजली हो तो आप दहि का इस्तेमाल कर सकते हैं क्यूंकी दही में एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटी-फंगल तत्व होते हैं और इसके इस्तेमाल से खुजली को खत्म किया जा सकता है इसके लिए आपको आफ्नै हथेली और तलवों पर दही लगाना है और कुछ देर के लिए चोर देना है| दही लगाने  के आधे घंटे बाद आप अपनी हथेली को गुंगुने पाने से धू लें और आप उस उपाए को दिन में दो बार इस्तेमाल कर सकते हैं|

अगर हो सकते तो खुजली न रुकने पर डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करें क्यूंकी कई बार चीज़ें अनदेखा करने पर बाद में ज़्यादा दिक्कत होती है| समय पर इलाज करवाने से जल्दी रिकवरी भी हो जाती है और समस्या गंभीर भी नहीं होती है|

इसलिए जब भी आपको कोई दिक्कत हो तो लक्षणों को अनदेखा न करें और डॉक्टर से जल्द से जल्द संपर्क करें क्यूंकी कई बार जिन लक्षणों को आप अनदेखा कर रहे होते हैं उससे दूसरों को भी वही समस्या हो सकती है|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*