बच्चों के स्कूल खुलने वाले हैं इसलिए कोविड संबंधी ये 5 नियम जान लें!

mask school guidelines

बच्चों के स्कूल खुलने वाले हैं और यही कारण है की बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये कुछ पाँच ज़रूरी नियम हैं, जिनकी जानकारी पैरेंट्स और बच्चों दोनों को ही होनी चाहिए|

इन पांच कोविड गाइडलाइंस को अनदेखा न करें और न भी बच्चों और स्कूल प्रशासन को करने दें क्यूंकी बच्चों की शिक्षा में कोई भी रुकावट होना और उनकी पढ़ाई का और नुकसान करने जैसा होगा|

तो चलिये बिना समय ज़ायर किए बात करते हैं इन 5 कोविड गाइडलाइंस की जिनका पालन करना अनिवार्य है|

स्कूल जाने वाले बच्चों की सुरक्षा से जुड़े पाँच नियम:

1.       पहला नियम ये है की बच्चों को पहले की असेंबली में नहीं आना है, और बच्चों को आपने-अपने क्लासरूम में ही असेंबली करनी होगी| इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर भी रोक लगाई गयी है| ये बात बच्चों को शायद पसंद न आए इसलिए ज़रूरी है की पैरेंट्स और शिक्षक बच्चों को कोविड की गाइडलाइंस से जुड़े नियमों की गंभीरता को समझाने की कोशिश करें|

2.       अगर संक्रमण की बात करें तो कोविड वाइरस से प्रभावित हुये बच्चों में उतना ही संक्रमण पाया गया जितना की बड़े लोगों में यही कारण है की स्कूल में अब टिफ़िन, बॉटल, कॉपी-किताबें शेयर करने पर रोक लगा दी गयी है| इसके साथ ही जिन बच्चों में मोटापे की समस्या है उनमें संक्रमण होने के आसार ज़्यादा है|  

3.       इसके साथ ही बच्चों की अटेंडेंस को लेकर सख्ती हटाई गयी है| अगर किसी बच्चे में कोरोना के लक्षण नहीं है पर उसके आस-पास के घरों में या किसी परिवार के सदस्य को कोविड हो गया है तो उन्हें स्कूल जाना ज़रूरी नहीं है| इस लिए ऐसे में अपने बच्चों को स्कूल न भेजें|

4.       अगर आपके बच्चे में कोविड के कोई भी लक्षण हैं तो उन्हें स्कूल न भेजें क्यूंकी दूसरे बच्चों की सुरक्षा का ध्यान रखना भी ज़रूरी है और ऐसा न करने से दूसरे बच्चों में संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है| कोविड-19 के लक्षण: पेट दर्द, बुखार, नाक और गले में खराश, सर दर्द, हड्डियों में दर्द, उल्टी, खाने का टेस्ट न पता चलना, डायरिया, नाक बहना और सांस लेने में दिक्कत होना|

5.       स्कूल में व पब्लिक प्लेस में मास्क पहनना अनिवार्य है| अपने बच्चे को स्कूल मास्क लगाकर कर ही भेजें क्यूंकी इलाज से बेहतर रोकथाम होता है और ये बात सुनने में जितनी साधारण लगे पर इसका असर बाद में दिखता है| नियमों के पालन के अनुसार समय-समय पर हाथ धोना, मास्क पहनना अनिवार्य है|इसके साथ ही बच्चे अपने साथ सैनिटाइजर भी लेकर जा सकते हैं| कोविड-19 की वेक्सीन ज़रूर आ चुकी है पर ये वाइरस अभी खत्म नहीं हुआ है और न ही इस वायरस की वेक्सीन सभी की लगी है| इसलिए ज़रूरी है की इन गाइडलाइंस का पालन सख्ती से किया जया ताकि बच्चे भी सुरक्षित रहें और उनकी पढ़ाई का और नुकसान न हो|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*