माइक्रोवेव में खाना गर्म करने से पहले ये जान लें!

microwave

बहुत से घरों में अक्सर माइक्रोवेव का इस्तेमाल देखा गया है, ज़्यादातर ऑफिस और वर्किंग लोगों के लिए माइक्रोवेव काफी कामगर है|

ये सभी के लिए जल्दी खाना गर्म करने का एक अच्छा विकल्प तो है ही साथ ही ये ज़्यादा वयस्थ रहने वाले वर्किंग लोगों में ज़्यादा पॉपुलर है| पर जो लोग ऐसा करते हैं, उन्हें शायद ये नहीं पता होगा की माइक्रोवेव में खाना गर्म करना कितना घातक हो सकता है|

ऐसा एक शोध में सामने आया है कि जब आप माइक्रोवेव में खाना गर्म कर रहे होते हैं तो माइक्रोवेव कि गर्मी बक्टेरिया को खत्म करने के साथ ही एक तरह का ज़हर पैदा करती है जिसे ‘स्पोर्स’ कहते हैं|

इंटरनैशनल जर्नल ऑफ फूड माइक्रोबायोलॉजी में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक:

  • जब आप माइक्रोवेव में चावलों को गर्म करके रूम टेम्परेचर पर रख देते हैं तब उसमें माजूदा स्पोर्स (ज़हर) कि संख्या बढ़ जाती है, जो शरीर के स्वस्थ के लिए घातक है और उससे आपको फ़ूड पॉयजनिंग हो सकती है|
  • इसके साथ ही एक और बैक्टीरिया है जिससे टॉक्सिन कि मात्रा बढ़ती है – इस बैक्टीरिया को ‘सीरियस’ के नाम से जाना जाता है|
  • ये बैक्टीरिया दस्त,और उल्टी जैसी दिक्कतों का कारण बनता है।

इन्हें माइक्रोवेव में दुबारा न गर्म करें!

  • अजमोद
  • केल
  • पालक

अगर आप इन खाद्य पदार्थों को बाद में खाना चाहते हैं तो बेहतर हैं की इन्हें माइक्रोवेव की बजाये ओवन में गर्म करें|

बाकी कोशिश हमेशा यही रहनी चाहिए की ताज़ा बना हुआ खाना जितनी जल्दी आप खा सकते हैं खा लें|

ये कैंसर का कारण भी बन सकता है!

  • जब आप माइक्रोवेव में खाना दुबारा गर्म ते हैं तो खाने में मौजूद नाइट्रेट्स (जो आपके लिए बहुत अच्छी होते हैं) नाइट्रोसैमाइंस में बदल सकते हैं|
  • जिससे कैंसर जैसे गंभीर रोग हों सकते हैं और आपकी ज़िदगी खतरे में पड़ सकती है|
  • ज़रूरी नहीं की माइक्रोवेव की गर्मी से सभी बैक्टीरिया खत्म हों जाएँ:
  • आपको ये जान कर हैरानी होगी की कुछ खाद्य पदार्थ ऐसी होते हैं जिन्हें दुबारा गर्म करने पर वो हमारे शरीर के लिए घातक साबित हों सकते हैं|
  • इनमें चिकन सबसे पहले आता है- चिकन को माइक्रोवेव में दुबारा गर्म करने करने से सैल्मोनेला कॉन्टैमिनेश्न का खतरा बढ़ जाता है।
  • क्यूंकि जब आप चिकन को गर्म करते हैं तो इनमें मौजूब बैक्टीरिया कोशिकाएं जीवित रहती हैं|

माइक्रोवेव पूरी तरह से या सामान्य रूप से मांस के सभी हिस्सों को नहीं पकाता है, इसलिए जीवित बैक्टीरिया जैसे कि सैल्मोनेला (Salmonella) के जिंदा रहने की अधिक आशंका होती है।

माइक्रोवेव में उबला हुआ अंडा फट सकता है!

  • उबले हुए अंडे को माइक्रोवेव में गर्म करने से बचें|
  • क्यूंकि, जब आप उबले हुए अंडे को माइक्रोवेव में गर्म करते हैं तो उसमें मौजूब नमी कि वजह से उसमें अंदर ही प्रेशर बनने लगता हैं|
  • इस प्रैशर से अंडा माइक्रोवेव के अंदर, बहार हाथ में, प्लेट में या आपके मुँह में भी फट सकता हैं|
  • ऐसा होने से बचने के लिए अंडे को छोटे टुकड़ो में काट लें और फिर माइक्रोवेव में गर्म करें|

माइक्रोवेव भले ही आपको जल्दी गर्म खाना परोस के खाने का आराम देता हैं, पर इसमें गरम किया हुआ खाना आपकी सेहत ख़राब कर सकता हैं, क्यूंकि खाना दुबारा गर्म करने के बाद भी उसमें बैक्टीरिया रह जाते हैं|

अपनी सेहत सही रखनी है तो कोशिश करें की पका हुआ खाना इतनी ही मात्र में बनाएँ की उसे रखना न पड़े| ताज़ी सब्जी जितनी जल्दी पकाकर खा ली जाये उतना बेहतर है|

क्यूंकी खाने को ज़्यादा देर टीके रखने से उसके पौष्टिक तत्व खत्म हो जाते हैं|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*